इंट्राडे-ट्रेडिंग-क्या-है

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है – What is intraday trading 2022

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है ? जब आप किसी कंपनी के शेयर को खरीदते हो और उससे अच्छा रिटर्न मिलने के बाद बेच देते है लेकिन इंट्राडे ट्रेडिंग इन्वेस्टिंग का एक ऐसा जरिया है जिसमें आपको ज्यादा दिनों का इंतजार नहीं करना पड़ता है बल्कि आप एक ही दिन में मार्केट से प्रॉफिट निकाल सकते है इंट्राडे ट्रेडिंग के अंदर आपको एक ही दिन मैं किसी कंपनी के शेयर को खरीदना है और उसी दिन बेच देना है इसे ही इंट्राडे ट्रेडिंग कहते हैं अब चलिए मैं आपको बताता हूं की इंट्राडे ट्रेडिंग के अंदर आपको कुछ महत्वपूर्ण पहलुओं को ध्यान में रखना चाहिए

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है – what is intraday trading

यह शेयर मार्केट से पैसे कमाने का एक ऐसा तरीका है जिसमें आपको सप्ताह, महीना और सालों का इंतजार नहीं करना पड़ता है बल्कि आपको एक ही दिन में प्रॉफिट मिल जाता है दोस्तों आप भी इंट्राडे ट्रेडिंग से पैसा कमाना शुरू कर सकते हैं

लेकिन इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए आपको कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए वरना आपका पैसा डूब भी सकता है वह कौन से महत्वपूर्ण पहलू है जिनका आपको ध्यान रखना चाहिए चलिए मैं आपको बताता हूं लेकिन इससे पहले जानते हैं कि इंट्राडे ट्रेडिंग कैसे करें

इंट्राडे ट्रेडिंग कैसे करें – how to do intraday trading

Intraday Day Trading करने के लिए आपके पास एक डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट होना आवश्यक है इसी के ऊपर आप इंट्राडे ट्रेडिंग करने वाले हैं इसके साथ ही आपके पास एक लैपटॉप या पर्सनल कंप्यूटर होना आवश्यक है जिसके ऊपर आपको इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए स्टॉक को एनालिसिस करना पड़ता है वैसे यह काम आप मोबाइल से भी कर सकते हैं लेकिन कंप्यूटर या लैपटॉप हो तो सोने पर सुहागा हो जाएगा,

इसके अलावा आपके पास एक अच्छा इंटरनेट कनेक्शन होना आवश्यक है अब आपको इंट्राडे ट्रेडिंग करने के लिए 9:15 से 3:30 तक का समय मिलता है इसी समय के अंदर आपको किसी एक कंपनी के स्टॉक को खरीदना और बेचना होता है,

इंट्राडे शेयर कैसे खरीदें – how to buy intraday shares

यह तो समझ लिया की इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है, अब जानते हैं कि आपको इंट्राडे के लिए शेयर खरीदने के 1 दिन पहले कुछ शेयर का चुनाव करना होता है,

अब आपको इन चुने गए शेयर को एनालिसिस करना होता है जैसे कि टेक्निकल एनालिसिस जिसमें यह शेयर कहां पर सपोर्ट और रेजिस्टेंस ले रहा है कहां पर शेयर की ट्रेंडलाइन टूट रही है आदि ऐसी कई सारी बातें टेक्निकल एनालिसिस के अंदर आती हैं यह एनालिसिस आपको इंट्राडे के लिए शेयर का चुनाव करते समय करना होता है

आप न्यूज़ पढ़ कर जैसे कि कौन सी कंपनी को अच्छा प्रॉफिट हुआ है या किसी कंपनी से संबंधित कोई अच्छी न्यूज़ आती है ऐसे शेयर को आप अपनी वॉच लिस्ट में ऐड कर सकते हैं इन बातों का ध्यान रखकर आप इंट्राडे ट्रेनिंग के लिए शेयर का चुनाव कर सकते हैं

इंट्राडे ट्रेडिंग के फायदे

यहां से आप रोज पैसा कमा सकते है

No Risk

इंट्राडे ट्रेडिंग के अंदर जब मार्केट बंद हो जाता है उसके बाद आप को नुकसान नहीं हो सकता क्योंकि मार्केट के बंद होने से पहले यदि आप अपनी शेर को बेच देते हैं या फिर नहीं भी बेचते हैं तो भी आपका शेयर ऑटोमेटिक बिक जाता है जिससे आपको बाद में कोई भी नुकसान नहीं हो सकता है

डे ट्रेडिंग के अंदर आपको बहुत ज्यादा समय का इंतजार नहीं करना पड़ता है क्योंकि यहां पर आप एक ही दिन में शेयर को खरीदते और बेच भी देते है हैं और उसी दिन अपना मुनाफा मार्केट से निकाल लेते हैं

आप इंट्राडे ट्रेडिंग की कम पैसों के साथ भी शुरुआत कर सकते हैं क्योंकि यहां पर आपको ज्यादा समय का इंतजार नहीं करना पड़ता है

इंट्राडे ट्रेडिंग के नुकसान – Advantages of intraday trading

  • आपको बिना सीखें इंट्राडे ट्रेडिंग नहीं करनी चाहिए क्योंकि यहां पर आपके पैसे के डूबने का खतरा बना रहता है
  • इंट्राडे ट्रेडिंग करते समय आपको अपने खुद पर कंट्रोल करना भी आना चाहिए क्योंकि यहां पर जब आपके टारगेट से ऊपर शेयर की प्राइस जाती है तो वहां पर ऑटोमेटिक लालच आ जाता है जिसके कारण आप उस शेयर से नहीं निकल पाते है
  • आपको इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए अच्छे शेयर का चुनाव करना आना चाहिए वरना आप किसी गलत कंपनी के शेयर में फंस सकते हैं
  • दूसरों की टिप्स पर आपको इंट्राडे ट्रेडिंग नहीं करनी चाहिए वरना आपको काफी ज्यादा नुकसान उठाना पड़ सकता है

इंट्राडे ट्रेडिंग नियम – intraday trading rules

ट्रेडिंग प्लान

इंट्राडे ट्रेडिंग करने के लिए आपके पास 1 दिन पहले ही एक ट्रेडिंग प्लान होना आवश्यक है जिसके अंदर आपको उन शेर की लिस्ट बनानी होती है जो आप दूसरे दिन ट्रेड करने वाले है इसके साथ ही आप उन शेयर के अंदर कब एंट्री लेने वाले हैं और कब निकलने वाले हैं यह सारा कुछ लिखा हुआ होना चाहिए

प्रॉफिट निकालना

आपको इंट्राडे ट्रेडिंग करते समय एक बार प्रोफिट होने के बाद उसे निकालना आना चाहिए क्योंकि कई सारे लोग एक बार प्रोफिट होने के बाद भी लालच के कारण उस शेयर से नहीं निकल पाते हैं और उनको नुकसान हो जाता है इसलिए हमेशा जो प्रॉफिट हो रहा है उसे लेना सीखें

स्टॉप लॉस

आप अपना ट्रेंनिंग प्लान बनाते समय जिन शेयर का चुनाव करते हैं उन शेयर का एक निश्चिंत स्टॉपलॉस भी डिसाइड करें क्योंकि यदि वह शेयर आप के बनाए हुए प्लान के अनुसार नहीं चला तो आपका स्टॉप लॉस आपको ज्यादा नुकसान होने से बचा लेगा

ओवरट्रेडिंग

जब आपको एक बार इंट्राडे ट्रेडिंग करते समय प्रॉफिट हो जाता है तो आप ज्यादा ट्रेड नहीं करें क्योंकि इससे आपका कमाया हुआ पैसा भी आपके हाथ से निकल जाता है और कई बार तो कमाए हुए के साथ आपकी कैपिटल का भी पैसा लॉस में कन्वर्ट हो जाता है इसलिए आप ज्यादा ओवरट्रेडिंग नहीं करें

अपने आप पर काबू

दोस्तों अधिकांश लोगों के साथ इंट्राडे ट्रेडिंग करते समय खुद पर कंट्रोल नहीं रह पाता है क्योंकि जब उनको किसी शेयर की कीमत बढ़ती हुई नजर आती है तो वह सोचते हैं कि यह और ऊपर जाएगा जिसके कारण वह उस शेयर से नहीं निकल पाते हैं इसके बाद अचानक वह शेयर नीचे गिर जाता है और उनको नुकसान हो जाता है

ऐसे ही जब कोई शेयर नीचे गिरता है तो वह लोग सोचते हैं कि यह इससे ज्यादा नीचे नहीं जाएगा जिसके कारण रहे अपना स्टॉप लॉस लगाने के बाद भी उस शेयर से नहीं निकल पाते हैं और वह शहर और नीचे चला जाता है जिसके कारण उनको काफी ज्यादा नुकसान उठाना पड़ता है तो आपको इंट्राडे ट्रेडिंग करते समय सबसे ज्यादा खुद पर काबू पाना आना चाहिए

1 thought on “इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है – What is intraday trading 2022”

  1. Twicsy

    Thanks for your marvelous posting! I truly enjoyed reading it,
    you can be a great author. I will always bookmark
    your blog and definitely will come back sometime soon. I want to encourage yourself to continue your great job, have a
    nice afternoon!

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!