Bull Market और Bear Market क्या है? जानिए हिंदी में

Bull Market और Bear Market क्या है?

बाजारों को अक्सर (Bull) ‘बैल’ या (Bear) ‘भालू’ बाजार के रूप में वर्णित किया जाता है। लेकिन क्या आपको पता है, Bull Market और Bear Market क्या है? यह मार्केट का बेसिक पार्ट है जिससे जानना आपको जानना बेहद जरूरी है। क्योंकि Bull Market और Bear Market से ही बाजार की स्थिति पता चलती है, और आगे हम जानेंगे कि आखिर इन नामों की व्युत्पत्ति मार्केट में कैसे हुई।

यदि आपने हर्षद मेहता के जीवन पर आधारित लोकप्रिय वेब सीरीज Scam1992 देखी है, तो आपको याद होगा कि उसमें ‘मंदोड़िया’ (बियर) और ‘तेजड़िया’ (बुल) के बारे में बताया गया है। ऐसा इसलिए क्योंकि बुल और बियर मार्केट, बाजार की एक्विटी के आधार हैं। चलिए आगे बढ़ते हैं और जानते हैं कि बुल बाजार और बियर बाजार क्या है?

शेयर मार्केट का गणित जानिए और पैसे कमाइए

What is Bull or Bear Market in Hindi, बुल और बियर बाजार क्या है?

बाजारों को अक्सर ‘बैल’ या ‘भालू’ बाजार के रूप में वर्णित किया जाता है। इन नामों की व्युत्पत्ति उस तरीके से हुई है जिसमें जानवर अपने विरोधियों पर हमला करते हैं। एक बैल अपने सींगों को हवा में उछालता है, और एक भालू अपने पंजे नीचे दबाता है। ये क्रियाएं बाजार की गति के लिए रूपक हैं: यदि स्टॉक की कीमतें ऊपर की ओर बढ़ती हैं, तो इसे (Bull Market) एक बैल बाजार माना जाता है, यदि प्रवृत्ति नीचे की ओर है, तो इसे एक (Bear Market) भालू बाजार माना जाता है।

स्टॉक मार्केट कैसे सीखे हिंदी में

बुल मार्केट (Bull Market)

डियर पाठक (Bull Market) बाजार की वह फाइनेंशियल सिचुएशन है जो इन्वेस्टरों के लिए आत्मविश्वास, आशा की किरण, वह पॉजिटिव उम्मीदों को दर्शाता है।

वैसे तो ‘बैल बाजार’ (Bull Market) स्टॉक मार्केट से संबंध रखता है, लेकिन आपको बता दें कि बुल बाजार सभी वित्तीय बाजारो जैसे कि- मुद्राओं, ब्रांडो, और प्रोडक्ट आदि पर भी लागू होता है। बुल बाजार के समय, अर्थव्यवस्था (Economy) में सब कुछ ऊपर की ओर बढ़ता है, जैसे कि जीडीपी की ग्रोथ होना, नौकरी के सेक्टर में वृद्धि होना, और शेयर बाजार में स्टॉक कीमतें बढ़ती है। और मार्केट में कई बदलाव आते हैं

अगर आपको सिंपल लैंग्वेज में बतायें तो ‘बुल बाजार’ (Bull Market) अक्सर शेयरों को ओवरवैल्युएशन की ओर ले जाता है ऐसा इसलिए क्योंकि इन्वेस्टर बुल बाजार के समय अधिक आशावादी होते हैं और उनका ऐसा मानना होता है कि स्टॉक ऊपर की ओर ही बढ़ेगा

निवेश क्या होता है निवेश कैसे करें

बेयर मार्केट (Bear Market)

डियर पाठक बुल बाजार (Bull Market) के विपरीत ‘बियर मार्केट’ (Bear Market) जो मंदी और खराब अर्थव्यवस्था, स्टॉक मार्केट में शेयरों की कीमतों में गिरावट को दर्शाता है। क्योंकि मंदी के समय निवेशक का व्यवहार थोड़ा निराशावादी होता है, वैसे यह जरूरी नहीं लेकिन उन्हें डर होता है की स्टॉक नीचे की ओर परफॉर्म करेगा।

Bear Market निवेशकों के लिए अल्पावधि (कम समय) के लिए लाभदायक शेयरों को चुनना कठिन बना देता है।

बियर बाजार (Bear Market), के समय अधिक लोग खरीदने के बजाय स्टॉक बेचने में रुचि रखते हैं और इन्वेस्टरो का विश्वास कमजोर होता है। एक हालिया उदाहरण 2020 की महामारी का ही ले लीजिए, जिसमें अधिकांश इन्वेस्टर मार्केट से बाहर निकलना चाहते थे क्योंकि किसी को नहीं पता था कि महामारी कैसे निकलकर सामने आएगी या कितनी लंबी चलेगी।

बुल और बियर बाजार के महत्वपूर्ण बिंदु

  • प्रतिभूतियों (Securities) की आपूर्ति और मांग काफी हद तक यह डिसाइड करती है कि बाजार तेजी या मंदी के दौर में है या नहीं। इन्वेस्टर मनोविज्ञान, अर्थव्यवस्था में सरकार की भागीदारी और आर्थिक एक्टिविटी में बदलाव जैसी ताकतें भी बाजार को ऊपर या नीचे चलाती हैं। ये निवेशकों को शेयरों के लिए उच्च या निम्न कीमतों की बोली लगाने के लिए गठबंधन करते हैं।
  • Bull Market, बुल बाजार हमेशा मार्केट की बढ़ती हुई स्थिति को दिखाता है, और वही Bear Market, बियर बाजार मार्केट की गिरती हुई स्थिति को दिखाता है जहां बाजार में मौजूद ज्यादातर स्टॉक्स कीमतें गिरने लगती है।
  • बाजार में दो तरह के लोग होते हैं एक बुल मार्केट को पसंद करने वाले, दूसरे बियर मार्केट को पसंद करने वाले बियर मार्केट में इन्वेस्टर शॉर्ट सेलिंग (Short Selling) करके प्रॉफिट कमाते हैं। लेकिन मार्केट में अक्सर ऐसा देखा जाता है कि ज्यादातर इन्वेस्टर बुल मार्केट को ही सपोर्ट करते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि बीते कुछ वर्षों का इतिहास देखे तो मार्केट बुलिश (बढ़ता हुआ) दिखाई देगा
  • बियर मार्केट इन्वेस्टमेंट को थोड़ा रिस्की माना जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि इस दौरान स्टॉक्स की प्राइस में काफी उतार चढ़ाव आता है।

शेयर कैसे खरीदें और बेचे जानने आसान तरीका

निष्कर्ष, Bull Market और Bear Market क्या है?

डियर पाठक आज के इस लेख Bull Market और Bear Market क्या है? के अंदर हमने बुल बाजार और बीयर बाजार को समझा और आपको बता दें कि बाज़ार हमेशा या तो मंदी में रहेगा या तेज़ी में। इसलिए आपको समय-समय पर मार्केट को देखते रहना चाहिए अगर आप एक अच्छे ट्रेडर हैं या सीख कर ट्रेडर बनेंगे तो आप मार्केट बियर हो या बुल आप पैसा बनाओगे

इसलिए सीखने पर फोकस करें आशा करते हैं कि आज का लेख Bull Market और Bear Market क्या है?(Bull market or bear market kya hota hai) आपको काफी नॉलेजेबल लगा होगा अगर आपका फिर भी कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में बेझिझक पूछ सकते हैं।

error: Content is protected !!