Mutual Fund kya hai

Mutual Fund Kya Hai? (म्यूचल फंड) What is Mutual Fund

Mutual Fund Kya Hai? दोस्तों आपने टीवी और अपने मोबाइल फोन के अंदर कई बार म्यूचल फंड के बारे में कोई ना कोई ऐड जरूर देखा होगा और आपके मन में यह जिज्ञासा जगी होगी कि आखिरकार यह म्यूचल फंड क्या है तभी आप इस लेख तक पहुंच पाए हैं मैं आपको बता देती हूं कि म्यूचल फंड आज के समय में निवेश करने का सबसे अच्छा और लोकप्रिय तरीका है तो चलिए मैं आपको बताती हो की Mutual Fund Kya Hai? साथ ही Mutual Fund के बारे में विस्तार से A to Z जानकारी देती हूं

Mutual Fund Kya Hai? (What is Mutual Fund)

आज के आधुनिक समय के साथ बढ़ती मुद्रास्फीति के कारण लोग अपने पैसों को कहीं पर निवेश करना बेहतर समझते हैं और यह बात लगभग हर एक व्यक्ति जानता है कि समय के साथ उसके पैसे की वैल्यू घटती जा रही है निवेश के लिए लोग म्यूचल फंड का सहारा लेते हैं

म्यूचल फंड के अंदर किसी एक व्यक्ति का पैसा निवेश नहीं किया जाता है बल्कि कई सारे लोगों के एक समूह के द्वारा इकट्ठा किया गया पैसा share बाजार के स्टॉक, गोल्ड और बॉन्ड में निवेश किया जाता है यह सारा पैसा म्यूचल फंड इकट्ठा करता है

इसके बाद म्यूचल फंड अपने ग्राहकों को अच्छा रिटर्न कमा कर देता है

Mutual Funds मैं निवेश कैसे करें ( How to Invest in Mutual Funds )

  1. म्यूचल फंड (Mutual Fund) में निवेश करने के लिए आपको किसी म्यूचल फंड कंपनी के पास अपना अकाउंट खुलवाना होता है लेकिन यदि आपके पास डीमेट ट्रेडिंग अकाउंट है तो आप वहां पर भी म्यूचल फंड की सेवा प्रदान कर सकते हैं
  2. दूसरा तरीका यह है कि आप सीधे किसी भी म्यूचल फंड की वेबसाइट पर जाकर तुरंत निवेश की शुरुआत कर सकते हैं ले किन म्यूचल फंड में निवेश करने से पहले आपको एक सही म्यूचल फंड का चुनाव करना आवश्यक है
  3. आपको कई सारी म्यूचल फंड कंपनियां एक फाइनेंसियल एडवाइजर की सेवा देती हैं जिनसे आप सलाह मशवरा करके उस म्यूचल फंड के रेगुलर प्लान में अपने निवेश की शुरुआत कर सकते हैं
  4. यदि आप म्यूचल फंड की शुरुआत बिना किसी की मदद लिए करते हो तो आपको कोई भी चार्ज नहीं देना पड़ता है लेकिन यदि आप किसी म्यूचल फंड की एडवाइजर सेवा प्रदान करते हो तो आपको इसके लिए चार्ज देना पड़ सकता है
  5. आप म्यूचल फंड की शुरुआत घर बैठे आसानी से अपने मोबाइल पर दस्तावेज जमा करके कर सकते हैं
  6. किसी भी म्यूचल फंड कंपनी का आप रेगुलर प्लान में निवेश की शुरुआत करते हो तो आपको इसके लिए कमीशन देना पड़ता है
  7. म्यूचल फंड के डायरेक्ट प्लान से आप निवेश की शुरुआत करते हो तो इसके लिए आपको चार्ज नहीं देना पड़ता है और बहुत सारे कमीशन बच जाते हैहैं जिसके कारण आपको निवेश किए गए पैसों पर अच्छा मुनाफा होता है,

SIP क्या है?

Mutual Fund के प्रकार? Types of Mutual Funds

म्यूचल फंड के मुख्यतः दो प्रकार होते हैं

(1) Asset Class

(2) Structure

1). Asset Class

(i) Equity – इस प्रकार के म्यूचल फंड अलग-अलग कंपनियों की हिस्सेदार के अंदर निवेश करते हैं

(ii) म्यूचल फंड के द्वारा ली गई Equity समय के साथ में अधिक पूंजी का निर्माण करती हैं जिससे म्यूचल फंड को फायदा होता है

(iii) म्यूचल फंड के द्वारा इक्विटी के अंदर किया गया निवेश लंबे समय में अच्छा रिटर्न देता है

(iv) इक्विटी मार्केट के अंदर म्यूच्यूअल फंड और भी अलग-अलग तरीकों से पैसों का निवेश करता है

Ex. इक्विटी मार्केट के अंदर बहुत सारे अलग-अलग फंड होते हैं जैसे कि स्मॉल कैप फंड, मल्टी कैप फंड, सेक्टर, लार्ज कैप फंड और मिड कैप फंड आदि.

लार्ज कैप फंड – इस सेक्टर के अंदर वह कंपनी आती है जिनका मार्केट कैप काफी बड़ा है इस सेक्टर की कंपनियां धीरे-धीरे ग्रो करती है लेकिन इनके अंदर रिस्क थोड़ा कम हो जाता है लार्ज कैप फंड के स्टॉक को ब्लू चिप स्टॉक भी कहा जाता है

मिड कैप फंड – दोस्तों इस फंड में आने वाली कंपनियां लार्ज कैप थे थोड़ी छोटी होती है इसमें मुख्यता मध्यम वर्ग की कंपनी आती है

मिडकैप में आने वाली कंपनियां बहुत ज्यादा मुनाफा दे भी सकती हैं और नहीं भी

स्मॉल कैप फंड – यह काफी छोटी कंपनियां होती है स्मॉल कैप की कंपनियों का मार्केट कैप और व्यवसाय बहुत ही कम फैला हुआ होता है

इस सेक्टर की कंपनियों के अंदर बहुत ज्यादा मुनाफा और नुकसान दोनों की संभावना बनी रहती है

2). Structure

(i) Bond – म्यूचल फंड के द्वारा सारा पैसा किसी एक ही जगह पर ना लगा कर अलग-अलग जगह पर इन्वेस्ट किया जाता है और इनमें से एक है Bond इसके अंदर सरकारी संपत्ति या मनी मार्केट जैसे कार्य होते हैं जब इन bond या सरकारी संपत्तियों में निवेश की आवश्यकता होती है तो इनमें म्यूचल फंड के द्वारा निवेश किया जाता है

(ii) इसके अंदर म्यूचल फंड के द्वारा निवेश करने का सबसे अच्छा फायदा यह होता है

की इसे सबसे सुरक्षित निवेश माना जाता है यहां पर म्यूचल फंड को हानि होने का रिस्क बहुत कम या ना के बराबर होता है

म्यूचल फंड का इतिहासHistory of Mutual Funds

म्यूचल फंड का इतिहास थोड़ा अलग है शुरुआती समय में म्यूचल फंड को भारत सरकार के द्वारा शुरू किया गया था म्यूचल फंड को 1963 मैं UTI ( यूनियन ट्रस्ट ऑफ इंडिया) के माध्यम से लोगों के बीच में लाया गया था इसके अलावा इस म्यूच्यूअल फंड को भारत कि रिजर्व बैंक RBI ( रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया) के अधीन रखा गया था 1978 के बाद आरबीआई ने म्यूचल फंड को चलाने का दायित्व कई सारी बैंकों को दे दिया और आज के समय में लगभग हर एक बैंक और कई सारी अलग-अलग कंपनियों के पास अपना एक अलग म्यूचल फंड मौजूद है

क्या म्यूचल फंड सही है ( What Mutual Fund Right )

आप अपने पैसे को बाजार में कहीं पर निवेश करना चाहते हैं तो म्यूचल फंड आपके लिए सच में सही है क्योंकि आप यदि शेयर बाजार में सीधे निवेश करते हैं तो वहां पर आपका रिस्क काफी बढ़ जाता है लेकिन यदि आप म्यूचल फंड में थोड़ा थोड़ा पैसा इन्वेस्ट करते हैं तो आपको लंबे समय के बाद अच्छा रिटर्न देखने को मिल सकता है लेकिन इसके अलावा यदि आप म्यूचल फंड मैं निवेश करने से पहले अच्छे से उसके बारे में नॉलेज लेते हैं तो आपको नुकसान होने के चांस कई गुना कम हो जाते हैं

म्यूचल फंड के फायदे ( Benefits of Mutual Funds )

एक सामान्य व्यक्ति को म्यूचल फंड के अंदर निवेश करते समय कई सारे फायदे होते हैं जैसे

1). अच्छी कंपनी (Good Company) – म्यूचल फंड में आए लोगों के पैसों को उस म्यूचल फंड के बड़े बड़े अधिकारी और प्रोफ़ेसर के द्वारा एक अच्छी और सही कंपनी का चुनाव करके इन्वेस्ट किया जाता है जिससे भविष्य में अच्छा फायदा होता है

2). छोटा निवेश (Small Investment) – एक सामान्य व्यक्ति म्यूचल फंड के माध्यम से निवेश की शुरुआत एक बहुत छोटी राशि से भी कर सकता है वरना उसे बाकी किसी दूसरी जगह पर ऐसी कोई भी सुविधा नहीं मिलती है

3). लिक्विडिटी (liquidity) – म्यूचल फंड के अंदर व्यक्ति अपने पैसों को किसी भी समय निवेश कर सकता है साथ ही वह अपने पैसों को आसानी से निकाल भी सकता है उसका पैसा किसी निश्चित समय के लिए डॉग लॉक नहीं रहता है

4). घर बैठे निवेश (Investing From Home) – एक सामान्य व्यक्ति घर बैठे म्यूच्यूअल फंड के अंदर आसानी से निवेश की शुरुआत कर सकता है व्यक्ति अपने मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं ऑनलाइन किसी भी प्लेटफार्म पर महत्वपूर्ण दस्तावेजों का इस्तेमाल करके म्यूचल फंड अकाउंट खोल सकता है

5). Long Ran Good Return – म्यूचल फंड में निवेश करने वाले व्यक्ति को लंबे समय तक इंतजार करने के बाद निवेश किए गए पैसों के ऊपर एक बहुत ही अच्छा रिटर्न देखने को मिलता है

म्यूचल फंड के नुकसान ( Disadvantages of Mutual Funds )

सही से निवेश नहीं करने पर कई बार म्यूचल फंड के अंदर सामान्य लोगों को नुकसान का सामना भी करना पड़ता है जैसे

1). गलत म्यूचल फंड (Wrong Mutual Fund) – कई बार लोगों के द्वारा एक सही म्यूचल फंड का चुनाव नहीं करना भी नुकसान का सौदा साबित हो जाता है क्योंकि यदि म्यूचल फंड आपके पैसे को सही जगह पर निवेश नहीं करता है तो उसका नुकसान आपको उठाना पड़ता है

2). लंबा टाइम ( Long Trem ) – म्यूचल फंड के अंदर निवेश करने वाले लोगों को अपने पैसों के ऊपर मुनाफा कमाने में काफी लंबे समय का इंतजार करना पड़ता है

3). गारंटीड रिटर्न (Guaranteed return) – कोई भी म्यूचल फंड यह गारंटी नहीं लेता है कि आपके पैसे के ऊपर एक गारंटीड रिटर्न ही मिलेगा जैसा की एफडी मैं होता है म्यूचल फंड के अंदर जब म्यूचल फंड मुनाफा कमाता है तभी आपको फायदा हो पता है

4). कम टाइम (Less Time) – किसी व्यक्ति के द्वारा म्यूचल फंड में निवेश किए गए पैसों को कम समय में निकाल लेने पर बहुत ही कम या नहीं के बराबर रिटर्न मिलता है

5). अवरुद्धता अवधि (Lock in period) – इसके अंदर व्यक्ति जरूरत पड़ने पर अपने पैसों को म्यूचल फंड से बाहर नहीं निकाल पाता है

उसका पैसा इस फंड से तभी बाहर निकल पाता है जब लॉक इन पीरियड कंप्लीट होता है यह पीरियड 5 साल या 10 साल इससे ज्यादा का भी हो सकता है

लोगों के द्वारा म्यूचल फंड से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न ?

म्यूचल फंड में कितना रिटर्न मिलता है ?

Ans. म्यूचल फंड एक ऐसी जगह है कहां पर Fd की तरह कोई फिक्स रिटर्न नहीं मिलता है यहां पर व्यक्ति को किसी साल 20% से 25% तक का रिटर्न मिल जाएगा तो किसी साल 5% से 10% रिटर्न नहीं मिल पाएगा अंत म्यूचल फंड का रिटर्न कभी भी फिक्स नहीं होता है

सबसे बेस्ट म्यूचल फंड कौन सा है ? Which is the best mutual fund?

Ans. दोस्तों मार्केट के अंदर आज के समय बहुत सारे म्यूचल फंड मौजूद है लेकिन सबसे कठिनाई की बात यह है कि इनमें से सबसे बेस्ट म्यूच्यूअल फंड कौन सा है,

म्यूचल फंड का चुनाव करते समय आपको उस म्यूचल फंड को सही से एनालाइज करना आना चाहिए उसमें आपको यह देखना चाहिए कि जिस म्यूचल फंड को आप अपना पैसा दे रहे हो वह म्यूचल फंड प्रति वर्ष कितना रिटर्न पिछले कई वर्षों से देता आ रहा है

ऐसे और भी कई सारे फैक्टर मौजूद है जिन का पता लगाना आवश्यक हो जाता है तो जो म्यूचल फंड पिछले कई सालों से अपने ग्राहकों को अच्छा रिटर्न दे रहा है वह म्यूचल फंड सबसे बेस्ट म्यूच्यूअल फंड है

म्यूचल फंड का रेगुलेटर कौन है ?

Ans. जब बात निवेश की आती है दो लोगों की सुरक्षा के लिए हमेशा sebi आगे आता है जो चाहे शेयर मार्केट हो या फिर म्यूचल फंड सभी के ऊपर नजर रखता है और इन को अपने कंट्रोल में रखता है इसी वजह से लोगों को धोखाधड़ी का डर नहीं रहता है जिसके फलस्वरूप वह म्यूचल फंड में इन्वेस्ट करते हैं

म्यूचल फंड को कौन मैनेज करता है ?

Ans. म्यूचल फंड को फंड मैनेजर के द्वारा मैंने दिया जाता है यह किसी एक व्यक्ति विशेष के द्वारा संचालित नहीं किया जाता है बल्कि कई सारे पढ़े लिखें लोग और मैनेजर का समूह इसे संचालित करता है

कितने पैसों से म्यूचल फंड में निवेश किया जाता है

Ans. म्यूचल फंड में निवेश करने के लिए व्यक्ति के पास हजारों रुपए होना आवश्यक नहीं है बल्कि वह आसानी से अपने मोबाइल फोन के माध्यम से म्यूचल फंड मैं खाता खोलकर मात्र ₹100 से शुरुआत कर सकता है

निष्कर्ष ( conclusion)

आज के इस लेख Mutual Fund Kya Hai? के अंदर आपने यह सीखा की Mutual Fund Kya Hai? और म्यूचल फंड की शुरुआत कैसे कर सकते हैं साथ ही आपने यह भी जाना कि म्यूचल फंड को कैसे शुरू किया जाता है और म्यूचल फंड में आपको क्या लाभ और हानि हो सकते हैं

इनके अलावा और आपने कई सारी म्यूचल फंड से संबंधित बातें सीखी होगी. अंते यदि आपको हमारा यह Mutual Fund क्या है लेख को समझाने का तरीका पसंद आया हो या आपको इसमें कुछ कमी लगी हो तो वह हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं ताकि हम जल्द से जल्द उसे ठीक कर सके बताती हूं

Leave a Comment

Your email address will not be published.