डिजिटल गोल्ड क्या होता है, Digital Gold Kya hai in Hindi

नमस्कार डियर पाठक, आज के इस लेख में हम जानेंगे कि डिजिटल गोल्ड क्या होता है, और डिजिटल सोना कैसे खरीदें जैसा कि आपको पता है भारत में सोने में निवेश करने की पुरानी प्रथा रही है, और इसका यह भी कारण हो सकता है कि सोने में निवेश करना बहुत सुरक्षित और ज्यादा रिटर्न देने वाला माना जाता है।

अब ऐसे में इस बदलते दौर में निवेश करने के ऑप्शन भी बदले हैं, लेकिन भारत में आज भी बड़ी मात्रा में लोग सोने के अंदर इन्वेस्ट करते हैं। लेकिन अब उनके निवेश करने का तरीका भी बदल गया है। आजकल लोग डिजिटल गोल्ड में निवेश कर रहे हैं।‌ और अच्छा प्रॉफिट भी बना रहे हैं। और यह सुरक्षित तरीका भी है। इसलिए आज के लेख में हम जानेंगे कि डिजिटल गोल्ड में कैसे निवेश करें।

निवेश किसे कहते हैं और कहां पर निवेश करें पूरी जानकारी

शेयर मार्केट में कैसे निवेश करें

डिजिटल गोल्ड क्या है? What is Digital Gold

डिजिटल गोल्ड क्या है? डिजिटल गोल्ड ऑनलाइन सोना खरीदने का तरीका है। यह न तो ज्वेलरी है,‌ नहीं कॉइन है और न म्यूचुअल फंड है, यह फिजिकल गोल्ड है, ऑनलाइन खरीदा जाता है और इसको खरीदने के बाद ग्राहक के वॉलेट में स्टोर करके रख दिया जाता है, इसे ही डिजिटल गोल्ड कहते हैं। इसको खरीदने के लिए आपको इंटरनेट और एक कि स्मार्टफोन की आवश्यकता होती है। और इसकी जो कीमत होती है, वह इंटरनेशनल कीमतों से लिंक्ड में रहती है, और इसको आप लाइव वॉच कर सकते हैं।

साथ ही आप डिजिटल गोल्ड को खरीदने के बाद इसे अपनी मर्जी से बेंच सकते हैं, इसे ट्रांसफर भी कर सकते हैं इसके अलावा इसकी फिजिकल डिलीवरी भी ले सकते हैं।

डिजिटल गोल्ड कैसे खरीदें, How to Buy Digital Gold

डिजिटल गोल्ड कैसे खरीदें :- डिजिटल गोल्ड खरीदने के लिए आप कई सारी ई वॉलेट कंपनियां जैसे पेटीएम, फोन पे, गूगल पे, और कुछ बैंक्स या ब्रोकिंग फर्म्स का इस्तेमाल कर सकते हैं, इन डिजिटल प्लेटफॉर्म के जरिए आप MMTC लिमिटेड, जो कि सबसे पुरानी कंपनी है, ऑगमेंट गोल्डटेक लिमिटेड और डिजिटल गोल्ड इंडिया (SafeGold) देसी कंपनियों का सोना डिजिटल गोल्ड के रूप में खरीद सकते हैं,

इन कंपनियों का टाई-अप PayTM, Google Pay, Amazon Pay and PhonePe जैसे अलग-अलग ई वॉलेट कंपनियों के साथ होता है, जो Digital gold को बेचने करने में मदद करती है।

डिजिटल गोल्ड को असली सोने में बदला जा सकता है।

जी हां बिल्कुल आप डिजिटल सोना खरीदने के बाद इसको असली सोने में भी बदल सकते हैं, लेकिन यहां पर आपको असली सोने में बदलने के लिए एक्स्ट्रा चार्ज का भुगतान करना होगा। सोने में निवेश करने के बाद ग्राहक सोने को बार या फिर सिक्के में बदल सकता है।

लेकिन ग्राहक अगर फिजिकल सोना मंगाता है, तो उसे सिक्के को बनवाने के लिए उसकी डिजाइन का खर्चा देना होगा, और डिजिटल गोल्ड खरीदने पर ग्राहक को 3% से ज्यादा GST का भुगतान करना पड़ेगा, और अगर ग्राहक इसको किसी प्लेटफार्म पर स्टोर करके लंबे समय के लिए रखता है तो उसे उसका भी चार्ज देना होगा।

लेकिन आपको यहां पर सावधानी रखनी चाहिए, वह इसलिए क्योंकि अभी तक कोई भी सरकारी रेगुलेटरी इसे रेगुलेट नहीं कर रही है यानी कि अगर आप म्युचुअल फंड में इन्वेस्ट करते हैं तो सेबी (SEBI) उसका रेगुलेटर है, बैंकों का रेगुलेटर भारतीय रिजर्व बैंक है, मगर आप डिजिटल गोल्ड खरीद रहे हैं, तो इसका भी कोई रेगुलेटर नहीं है इसलिए यह जिम्मेदारी उस प्लेटफार्म की होती हैं जिससे आप सोना खरीद रहे हैं। और इसके लिए आपसे इंश्योरेंस कवर का पैसा लिया जाता है।

निष्कर्ष: डिजिटल गोल्ड क्या होता है

डियर पाठक आप गोल्ड ₹1 में भी खरीद सकते हैं, लेकिन पहले आपको कंपनी की टर्म्स एंड कंडीशन जान लेनी चाहिए। आपको सोना फिजिकल रूप में मिलने के लिए कम से कम 5 ग्राम सोना खरीदना होगा।

बाकी आज का आर्टिकल डिजिटल गोल्ड क्या होता है आपको पसंद आया हो इस जानकारी को अपने सोशल मीडिया पर अवश्य शेयर करें इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद

Leave a Comment

error: Content is protected !!